मुख्‍य समाचार

1 रायपुर। बच्चों के विकास मे प्रमुख भूमिका निभा रहा सजग कार्यक्रम : ऑडियो क्लिप के माध्यम से सुनाए जा रहे प्रेरक संदेश,रायपुर। मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर को : लोकवाणी ’बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर केन्द्रित होगी,राजनांदगांव। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया 4 नवम्बर को राजनांदगांव जिले के दौरे पर रहेंगे मिशन अमृत योजना के तहत 8.5 करोड़ के विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण ,राजनांदगांव : उपायुक्त कृषि विभाग डॉ. सोनकर ने किया गोधन न्याय योजना के कार्यों का निरीक्षण : योजना की सफलता का मूल मंत्र गौठानों का सफल संचालन, राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित राज्योत्सव में मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 1 लाख 65 हजार किसानों के खाते में 178 करोड़ रूपए की राशि अंतरित की

मंगलवार, 7 जुलाई 2020

प्रयास आवासीय विद्यालयों में प्रवेश के लिए प्राक्चयन परीक्षा 14 जुलाई को

  • परीक्षा केन्द्र स्थल कन्टेटमेंट जोन एरिया में हो तो करें वैकल्पिक व्यवस्था 

  • फिजिकल डिस्टेंसिंग पालन के संबंध में कलेक्टरों को निर्देश

          रायपुर, 07 जुलाई 2020 । प्रदेश में आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास द्वारा संचालित प्रयास बालक और कन्या आवासीय विद्यालयों में शैक्षणिक सत्र 2020-21 में कक्षा 9वीं में प्राक्चयन परीक्षा 14 जुलाई को सुबह 10.30 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक आयोजित की गई है। नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए संचालक आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास ने सभी जिला कलेक्टरों को दिशा-निर्देश जारी किए है।
          निर्देश में कहा गया है कि परीक्षा के लिए सभी संबंधित जिलों में परीक्षा केन्द्रों की स्थापना की गई है। इस संबंध में निर्देशित किया गया है कि यदि किसी जिले में परीक्षा केन्द्र स्थल कन्टेटमेंट जोन एरिया में आता हो, तो ऐसी दशा में परीक्षार्थियों के लिए वैकल्पिक परीक्षा केन्द्र की स्थापना की जाए, ताकि विद्यार्थियों को कोई असुविधा न हो। इसकी सूचना परीक्षार्थियों को समय पूर्व दी जाएं। परीक्षार्थियों के प्राप्त आवेदन पत्रों के आधार पर आवश्यकता अनुसार परीक्षा कक्ष की व्यवस्था की जाए। इसमें दो विद्यार्थियों के मध्य फिजिकल डिस्टेंसिंग में 6 फीट की दूरी रखी जाए। परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा कक्षों एवं शौचालयों की साफ-सफाई सुनिश्चित की जाए। सभी पर्यवेक्षक, केन्द्राध्यक्ष, निरीक्षणकर्ता और परीक्षार्थी मास्क लगाकर ही परीक्षा केन्द्र में प्रवेश करें। परीक्षा केन्द्र को परीक्षा के पूर्व सेनेटाईज करा लिया जाए। इसके लिए नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत या पंचायत का सहयोग लिया जाए। परीक्षा केन्द्र की कक्षों में प्रवेश करने के पूर्व परीक्षार्थियों, पर्यवेक्षक और अन्य कर्मचारियों के हाथों को सेनेटाईज करने की व्यवस्था की जाए। किसी भी विद्यार्थी का स्वास्थ्य खराब होने पर उसकी बैठक व्यवस्था पृथक से की जाए। परीक्षा के दौरान चिकित्सक और चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था भी की जाए।   

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें