मुख्‍य समाचार

1 रायपुर। बच्चों के विकास मे प्रमुख भूमिका निभा रहा सजग कार्यक्रम : ऑडियो क्लिप के माध्यम से सुनाए जा रहे प्रेरक संदेश,रायपुर। मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर को : लोकवाणी ’बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर केन्द्रित होगी,राजनांदगांव। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया 4 नवम्बर को राजनांदगांव जिले के दौरे पर रहेंगे मिशन अमृत योजना के तहत 8.5 करोड़ के विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण ,राजनांदगांव : उपायुक्त कृषि विभाग डॉ. सोनकर ने किया गोधन न्याय योजना के कार्यों का निरीक्षण : योजना की सफलता का मूल मंत्र गौठानों का सफल संचालन, राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित राज्योत्सव में मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 1 लाख 65 हजार किसानों के खाते में 178 करोड़ रूपए की राशि अंतरित की

शनिवार, 16 मई 2020

नरवा विकास कार्यक्रम : देवरानी-जेठानी नाला में जल संचयन के लिए हो रहे विविध कार्य

 बालोद, 16 मई 2020 । राज्य शासन की महत्वकांक्षी योजना नरवा विकास कार्यक्रम के तहत आज बालोद वन मंडल में कैम्पा मद के अंतर्गत निर्माणाधीन कार्यों का मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री प्रदीप शर्मा तथा राज्य योजना आयोग के सदस्य श्री सुब्रमण्यम सहित वरिष्ठ अधिकारियों के दल द्वारा स्थल निरीक्षण किया गया। दल द्वारा इस दौरान पहाड़ी की चोटी से घाटी तक देवरानी-जेठानी नाले के जल निकासी का पैदल चलकर मौके पर जायजा लिया गया और वहां सही ढंग से निर्माण कार्यों के संचालन पर इसकी सराहना की गई। 
 इस दौरान दल द्वारा निर्माणाधीन दो नग स्टाप डेम तथा मृदा क्षरण को रोकने के लिए कच्ची गैबियन संचरना का भी अवलोकन किया गया। साथ ही दल द्वारा यहां गुरूर वन परिक्षेत्र में निर्माणाधीन परकुलेशन टेंक को भी बहुत उपयोगी बताया गया। इनके निर्माण से क्षेत्र के आस-पास 3 हजार 500 हेक्टेयर भूमि का उपचारण होगा। दल द्वारा वर्तमान में कोविड-19 लॉकडाउन की विकट परिस्थिति में वनवासी ग्रामीणों के आर्थिक उन्नयन तथा रोजगार सृजन के लिए बालोद वन मंडल द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कार्यों की सराहना की गई। कैम्पा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री व्ही. श्रीनिवास राव ने बताया कि निरीक्षण दल में मुख्य वन संरक्षक दुर्ग श्रीमती शालिनी रैना तथा एम.वेंकटाचलम और बालोद के वन मंडलाधिकारी श्रीमती सतोविशा सहित अन्य वरिष्ठ विभागीय अधिकारी भी शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें