मुख्‍य समाचार

1 रायपुर। बच्चों के विकास मे प्रमुख भूमिका निभा रहा सजग कार्यक्रम : ऑडियो क्लिप के माध्यम से सुनाए जा रहे प्रेरक संदेश,रायपुर। मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर को : लोकवाणी ’बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर केन्द्रित होगी,राजनांदगांव। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया 4 नवम्बर को राजनांदगांव जिले के दौरे पर रहेंगे मिशन अमृत योजना के तहत 8.5 करोड़ के विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण ,राजनांदगांव : उपायुक्त कृषि विभाग डॉ. सोनकर ने किया गोधन न्याय योजना के कार्यों का निरीक्षण : योजना की सफलता का मूल मंत्र गौठानों का सफल संचालन, राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित राज्योत्सव में मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 1 लाख 65 हजार किसानों के खाते में 178 करोड़ रूपए की राशि अंतरित की

रविवार, 26 अप्रैल 2020

भारत सरकार के केबिनेट सचिव ने मुख्य सचिवों से जन स्वास्थ्य पर वीडियों काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए की समीक्षा

रायपुर, 26 अप्रैल 2020 । भारत सरकार के केबिनेट सचिव श्री राजीव गौबा ने आज वीडियों काॅन्फ्रेेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचाव और जन स्वास्थ्य को लेकर देश के सभी राज्यों के मुख्य सचिवों से विस्तार से चर्चा की। केबिनेट सचिव ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम, नियंत्रण और इससे बचाव के हर संभव उपाय करें। उन्होंने कहा कि हमें लोगों के स्वास्थ्य लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करना है। कोविड-19 के तहत लाॅकडाउन के दौरान विभिन्न राज्यों में राष्ट्रीय टीकाकरण तथा स्वास्थ्य कार्यक्रमों की जानकारी राज्यों के स्वास्थ्य सचिवों से वीडियों काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए ली गई। छत्तीसगढ़ रायपुर से वीडियों काॅन्फ्रेंसिंग में डीजीपी श्री डी.एम. अवस्थी, श्रीमती निहारिका बारिक और खाद्य एवं परिवहन सचिव डाॅ. कमलप्रीत सिंह शामिल हुए। प्रदेश की स्वास्थ्य सचिव श्रीमती बारिक सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में कोरोना के 37 पाजीटिव प्रकरण थे, जिसमें से 5 केश एक्टिव है और उनका इलाज चल रहा है शेष मरीज स्वस्थ हो गए है। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए सभी आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि राज्य में स्थिति नियंत्रित एवं संतोषप्रद है।
 केबिनेट सचिव ने कहा कि सभी राज्यों में ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग के लिए कार्य किया जाए। उन्होंने स्वास्थ्य सचिवों से रेपिड टेस्टिंग किट की उपलब्धता के संबंध में जानकारी भी ली। केबिनेट सचिव ने जिला अस्पतालों में आईसोलेशन, आई.सी.यू. बेड और कोविड-19 अस्पतालों की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए है। इसी तरह से राज्यों के शासकीय और निजी अस्पतालों में कोरोना टेस्टिंग सहित अस्पतालों में उपलब्ध वेंटीलेटर की स्थिति की भी समीक्षा की गई। केबिनेट सचिव ने सभी राज्यों में कोरोना के टेस्टिंग और इलाज के लिए व्यापक कार्ययोजना बनाकर समुचित व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए है इसके लिए आवश्यक व्यवस्थाओं के लिए केन्द्र से समुचित समन्वय बनाये रखे जाने पर विशेष जोर दिया।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें