रायपुर, 21 अप्रैल 2020 । मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने बीजापुर जिले के ग्राम आदेड़ की 12 वर्षीय कुमारी जमलो मड़कम की मृत्यु पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने गहरी संवेदना प्रकट करते हुए तात्कालिक सहायता के रूप में कुमारी मड़कम के परिवारजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से एक लाख रूपए की सहायता राशि स्वीकृत की थी। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आज कलेक्टर से चर्चा उपरांत मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान कोष से 4 लाख रूपए की अतिरिक्त स्वीकृति दी। इस प्रकार कुमारी मड़कम के परिवारजनों को कुल 5 लाख रूपए की आर्थिक सहायता मंजूर की गई है। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर बीजापुर को इस मामले की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए हैं।
    लॉकडाउन से प्रभावित श्रमिकों को राज्य सरकार के द्वारा हर संभव मदद दी जा रही है। मनरेगा और तेंदूपत्ता संग्रहण और गौठान के कार्य प्रारंभ किए जा रहे हैं। जिसमें बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिलेगा। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ में तथा देश के अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों के लिए राज्य सरकार द्वारा संकटग्रस्त एक लाख 85 हजार से अधिक श्रमिकों को भोजन, रहने की व्यवस्था सहित अन्य समस्याओं का त्वरित समाधान किया गया। छत्तीसगढ़ से बाहर अन्य राज्यों में फंसे 81 हजार 711 श्रमिको को राहत पहुंचायी गयी। अन्य राज्यों में फंसे श्रमिकांे में से सात हजार 384 श्रमिकों के खाते में तात्कालिक व्यवस्था के लिए लगभग 24 लाख 31 हजार रूपए भी जमा करवाया गया है।
    राज्य सरकार द्वारा देश के अन्य राज्यों में श्रमिकों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए अधिकारियों का दल गठित कर सतत् निगरानी की जा रही है। इसके लिए श्रम विभाग द्वारा राज्य स्तर पर हेल्पलाईन नम्बर 0771-2443809, 91098-49992, 75878-22800 सहित जिला स्तर पर भी हेल्पलाईन नम्बर स्थापित किए गए हैं। हेल्पलाईन नम्बर के माध्यम से प्राप्त श्रमिकों की समस्याओं को पंजीबद्ध कर तत्काल समाधान किया जा रहा है।