• कोरोना संक्रमण रोकने लगभग 1.21 लाख लोगों को मास्क और सेनेटाइजर का वितरण
  •  साढ़े 55 हजार जरूरतमंद लोगों को दी गई निःशुल्क राशन सामग्री
  • लगभग 46 हजार गरीबों एवं असहायों को कराया गया भोजन
  • स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा 45 हजार से अधिक निराश्रितों को निःशुल्क भोजन एवं राशन
    रायपुर, 09 अप्रैल 2020। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की पहल एवं निर्देशन में कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिए घोषित लाॅकडाउन में उत्पन्न परिस्थितियों के कारण प्रदेश के सभी जिलों में जरूरतमंद गरीबों, मजदूरों एवं निराश्रितों को 8 अप्रैल को दो लाख 67 हजार 345 लोगों को निःशुल्क भोजन एवं राशन सामग्री एवं मास्क तथा सेनेटाईजर प्रदान कर राहत पहुंचाया गया हैं।
    इनमें से साढ़े 55 हजार गरीबों के लिए निःशुल्क राशन की व्यवस्था की गई वही लगभग 46 हजार लोगों को ताजा एवं गर्म भोजन कराया गया। स्वयंसेवी संगठनों द्वारा प्रदेश के विभिन्न जिलों में 45 हजार से अधिक गरीबों एवं निराश्रितों को निःशुल्क भोजन एवं राशन प्रदान किया गया है। इसके साथ ही कोरोना के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए लगभग एक लाख 21 हजार गरीबों एवं असहायों को मास्क और सेनेटाइजर का वितरण किया गया।
     उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री श्री बघेल की अपील पर जरूरतमंदों की मदद के लिए राज्य शासन एवं स्वयं सेवी संस्थानों द्वारा पूरे प्रदेश में जगह-जगह राहत शिविर के माध्यम से गरीबों, असहायों और निाराक्षितों को निःशुल्क भोजन, राशन, मास्क सेनेटाइजर आदि जररूरत की सामानों की व्यवस्था की जा रही है।
    प्रदेश में 8 अप्रैल को प्रदेश के सभी 28 जिलों में दो लाख 67 हजार से अधिक लोगों को राहत पहंुचायी गई है। राज्य शासन एवं समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से रायपुर जिले में 22 हजार 578 लोगों को निःशुल्क भोजन एवं राशन प्रदाय किए जाने के साथ ही उन्हें कोरोना संक्रामक बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए मास्क एवं अन्य सामाग्री का वितरण किया गया है। इसी तरह सुकमा जिले में 1161, राजनांदगांव में 7883, रायगढ़ में 3586, बस्तर में 11497, कांकेर में 39066, बीजापुर में 339 जशपुर में 500, कोरिया में 6016, सूरजपुर में 2532, बालोद में 665, कबीरधाम में 2128, बलौदाबाजार में 7083, धमतरी में 2522, दुर्ग में 66807, महासमुंद में 956, बलरामपुर में 7629, कोरबा में 8068 लोगों को निःशुल्क भोजन एवं राशन प्रदाय किए जाने के साथ ही उन्हें कोरोना संक्रामक बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए मास्क एवं अन्य सामाग्री का वितरण किया गया है। इसी तरह सरगुजा जिले में 2235, जांजगीर-चांपा जिले में 2522, बिलासपुर जिले में 5550, कोण्डागांव जिले में 2605, दंतेवाड़ा जिले में 25555, बेमेतरा जिले में 383, गरियाबंद जिले में 22244, नारायणपुर जिले में 1485, मुंगेली जिले में 12537, तथा गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले में 1113 जरूरतमंदों को निःशुल्क भोजन एवं राशन प्रदाय किए जाने के साथ ही उन्हें कोरोना संक्रामक बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए मास्क एवं अन्य सामाग्री का वितरण किया गया है।