मुख्‍य समाचार

1 रायपुर। बच्चों के विकास मे प्रमुख भूमिका निभा रहा सजग कार्यक्रम : ऑडियो क्लिप के माध्यम से सुनाए जा रहे प्रेरक संदेश,रायपुर। मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर को : लोकवाणी ’बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर केन्द्रित होगी,राजनांदगांव। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया 4 नवम्बर को राजनांदगांव जिले के दौरे पर रहेंगे मिशन अमृत योजना के तहत 8.5 करोड़ के विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण ,राजनांदगांव : उपायुक्त कृषि विभाग डॉ. सोनकर ने किया गोधन न्याय योजना के कार्यों का निरीक्षण : योजना की सफलता का मूल मंत्र गौठानों का सफल संचालन, राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित राज्योत्सव में मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 1 लाख 65 हजार किसानों के खाते में 178 करोड़ रूपए की राशि अंतरित की

सोमवार, 30 मार्च 2020

लॉक डाउन के चलते जरूरत मंद लोगों को भोजन उपलब्ध करने का कार्य प्रशासन ने किया शुरू : कलेक्टर श्री मौर्य

  केवल गांधी सभागृह के पास ही भोजन बनेगा
यहीं से शहर के जरूरत लोगों को होगा भोजन का वितरण 

राजनांदगांव 29 मार्च 2020 ! कलेक्टर श्री जय प्रकाश मौर्य ने राजनांदगांव शहर में भोजन वितरण के संबंध में स्पष्ट किया है कि लॉकडाउन के चलते भोजन से वंचित लोगों तक भोजन पहुंचाने का काम प्रशासन ने शुरू किया है। पूर्व में राजनांदगांव के 6 जगहों सर्वेश्वर दास नगर पालिक निगम स्कूल, लखोली स्कूल परिसर, बल्देव प्रसाद मिश्र उच्चतर माध्यमिक शाला बसंतपुर, मोतीपुर स्कूल परिसर, चिखली स्कूल परिसर तथा गोंडवाना समाज भवन रेवाडीह पेंड्री में भोजन बनाने की तैयारी चल रही थी लेकिन इसमें आ रही दिक्कत को देखते हुए जिला प्रशासन की कोर कमेटी ने आपात बैठक लेकर तय किया है कि अब गांधी सभागृह के पास ही भोजन बनाने का काम किया जाएगा और इसे शहर के जरूरतमंदों तक वितरित किया जाएगा।
जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने की कड़ी में प्रशासनिक कोर कमेटी ने बैठक कर तय किया है कि चूंकि केंद्र सरकार ने अधिकतर लोगों को उज्जवला गैस का कनेक्शन दिया है और उनके पास राज्य सरकार की ओर से मिला चावल भी है, ऐसे में भोजन सिर्फ  उन लोगों को दिया जाए जो वास्तविक जरूरतमंद हैं। गांधी सभागृह के पास भोजन बनने के बाद शहर की संस्थाओं के माध्यम से ऐसे लोगों के पास भोजन पहुंचाने का काम किया जाएगा। जिला प्रशासन सोमवार से राजनांदगांव शहर में एक सर्वे कर वास्तविक जरूरतमंदों की सूची तैयार करेगा और फिर उन तक भोजन पहुंचाया जाएगा।
कलेक्टर ने कहा है कि जानकारी में यह भी आया है कि राजनीतिक दल भी भोजन सहित अन्य सेवा का काम करने के इच्छुक हैं। मैं उनका स्वागत करते हुए उनसे आग्रह करता हूं कि वे अपने-अपने स्तर पर ऐसा कर सकते हैं। फिलहाल प्रशासन ने शासकीय अधिकारियों, कर्मचारियों और गैर राजनीतिक लोगों की मदद से जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने का काम शुरू किया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें