मुख्‍य समाचार

1 रायपुर। बच्चों के विकास मे प्रमुख भूमिका निभा रहा सजग कार्यक्रम : ऑडियो क्लिप के माध्यम से सुनाए जा रहे प्रेरक संदेश,रायपुर। मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर को : लोकवाणी ’बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर केन्द्रित होगी,राजनांदगांव। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया 4 नवम्बर को राजनांदगांव जिले के दौरे पर रहेंगे मिशन अमृत योजना के तहत 8.5 करोड़ के विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण ,राजनांदगांव : उपायुक्त कृषि विभाग डॉ. सोनकर ने किया गोधन न्याय योजना के कार्यों का निरीक्षण : योजना की सफलता का मूल मंत्र गौठानों का सफल संचालन, राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित राज्योत्सव में मुख्यमंत्री ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत जिले के 1 लाख 65 हजार किसानों के खाते में 178 करोड़ रूपए की राशि अंतरित की

मंगलवार, 12 नवंबर 2019

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी मिलेगी सोनोग्राफी की सुविधा, निजी संस्थानों के माध्यम से दी जाएगी सुविधा

दुर्ग। समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी सोनोग्राफी की सुविधा उपलब्ध होगी। यह सुविधा निजी संस्थानों के माध्यम से दी जाएगी। इसके लिये नियमानुसार मैकेनिम बनाने के निर्देश कलेक्टर श्री अंकित आनंद ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में निर्देश दिए। कलेक्टर ने बैठक में कहा की डीएमएफ  के माध्यम से एवं जीवनदीप समिति के माध्यम से स्वास्थ्य क्षेत्र में अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये हैं। इनका तय समय के भीतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में थायराइड जांच एवं पी स्मीयर जांच की सुविधा आरम्भ हो गई है। उन्होंने कहा कि जांच की सुविधा का दायरा बढ़ाना और मरीजों को अधिकाधिक सुविधा देना लक्ष्य है। मरीजों की सुविधाओं के लिए जीवनदीप समिति की राशि के माध्यम से ऐसे कार्य करें जिससे मरीजों को अधिकाधिक स्वास्थ्य सुविधा दिलाने की दिशा में कार्य किया जा सके।
स्वाइन फ्लू के संबंध में रहें अलर्ट, शनिवार को बुलाई बैठक-
    कलेक्टर ने कहा कि स्वाइन फ्लू के सीजन की आशंका को देखते हुए इससे निपटने की तैयारियों को लेकर अलर्ट रहें। उन अस्पतालों में जिन्हें स्वाइन फ्लू के इलाज के लिए चिन्हांकित किया गया है। वहां पर पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करें। इसके लिए शनिवार को बैठक भी बुलाई गई है ताकि तैयारियों की समीक्षा की जा सके। इसके लिए राज्य स्तरीय  विशेषज्ञ आमंत्रित किये जायेंगे जो ऐसी आपदा से निपटने के समुचित उपायों पर चर्चा करेंगे।
ग्रामीण क्षेत्रों में कुष्ठ के चिन्हांकन के लिए विशेष अभियान-
    कलेक्टर ने टीबी तथा कुष्ठ जैसे रोगों के संबंध में स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाई की समीक्षा भी की। उन्होंने कुष्ठ के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने कहा कि एनीमिया के चिन्हांकन में तथा इसके उपचार की दिशा में स्वास्थ्य विभाग एवं महिला एवं बाल विकास विभाग विशेष रूप से समन्वय से कार्य करें। खून की कमी वाली महिलाओं एवं बच्चों के चिन्हांकन  होने पर इनके उपचार के साथ बीएमओ इसकी जानकारी परियोजना अधिकारियों को भी प्रदान करें ताकि इनके पोषण आहार की समुचित व्यवस्था की जा सके।
अधिकाधिक हितग्राहियों तक पहुंचे मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना 
तथा हाटबाजार स्वास्थ्य योजना का लाभ-
    कलेक्टर ने शासन की महत्वाकांक्षी योजना मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना एवं मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना की समीक्षा की और अधिकाधिक लोगों तक इसका लाभ देने लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें